June 20, 2024

UKND

Hindi News

देहरादून में शुष्क मौसम के साथ ही तपिश फिर से बढ़ने लगी

उत्तराखंड में जून के महीने में वर्षा की श्रृंखला समाप्त हो गई है, और अब निवासियों को मॉनसून के आगमन तक उच्च तापमान का सामना करना पड़ेगा। देहरादून में शुष्क मौसम के साथ ही तपिश फिर से बढ़ने लगी है, और अधिकतम तापमान में दो डिग्री सेल्सियस की वृद्धि दर्ज की गई है। आज मैदानी क्षेत्रों में मौसम शुष्क रहेगा और तापमान सामान्य से अधिक रह सकता है1।

जून की शुरुआत में उत्तराखंड में झोंकेदार हवाओं और झमाझम बारिश के साथ हुई थी, लेकिन अब गर्मी फिर से लौट आई है। प्रदेश भर में तापमान में सामान्य से तीन से चार डिग्री तक की बढ़ोतरी होने की संभावना है। मौसम विज्ञान केंद्र के अनुसार, उत्तरकाशी, रुद्रप्रयाग, बागेश्वर, चमोली और पिथौरागढ़ जिले के कुछ इलाकों में हल्की बारिश होने की संभावना है, जबकि अन्य जिलों में मौसम शुष्क बना रहेगा। मौसम विभाग का पूर्वानुमान है कि 11 जून तक प्रदेश भर में मौसम शुष्क रहेगा। सभी जिलों में चटख धूप खिलने के कारण मैदान से लेकर पहाड़ तक गर्मी और परेशान कर सकती है1।

इस बार उत्तराखंड में मानसून कुछ देरी से आएगा। 25 जून तक मानसून के उत्तराखंड पहुंचने की संभावना है। उससे पहले प्रदेश भर में तापमान में वृद्धि की संभावना है। मानसून से पहले गर्मी अभी और सताएगी। इस बार मानसून में सामान्य से 10 फीसदी अधिक बारिश होने की संभावना भी है। देहरादून में शनिवार शुक्रवार को अधिकतम तापमान 39.0 और न्यूनतम तापमान 22.8 डिग्री सेल्सियस रहा। पंतनगर का अधिकतम तापमान 38.6 और न्यूनतम तापमान 22.4 डिग्री सेल्सियस रहा। मुक्तेश्वर का अधिकतम तापमान 30.0 और न्यूनतम तापमान 14.6 डिग्री सेल्सियस रहा। नई टिहरी का अधिकतम तापमान 27.6 और न्यूनतम तापमान 16.5 डिग्री सेल्सियस रहा है1।

उत्तराखंड के निवासियों को अब गर्मी की चुनौती का सामना करना पड़ेगा, जब तक कि मानसून की बारिश राहत नहीं देती। इस बीच, सभी को सलाह दी जाती है कि वे अपनी सुरक्षा के लिए उचित सावधानियां बरतें और जल संरक्षण के उपाय करें।